यूपी को कोरोना मुक्त बनाने की सीएम योगी ने लिखी प्रधानों को चिट्ठी,तीसरी लहर के लिए अभी से अलर्ट मोड पर रहने को कहा

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गांव की सरकार के मुिऽया नवनियुत्तफ़ ग्राम प्रधानों को एक बार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से वार्ता करने के बाद अब उनको पत्र लिऽा है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने सभी ग्राम प्रधानों को पत्र लिऽकर कोरोना की तीसरी लहर के लिए अभी से अलर्ट मोड पर रहने को कहा है।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के सभी ग्राम प्रधानों को पत्र लिऽकर उनको बधाई दी है। इसके साथ ही पत्र में सीएम योगी आदित्यनाथने ग्राम प्रधानों से प्रधानमंत्री मोदी के मेरा गांव कोरोना मुत्तफ़ के ध्येय को साकार करने के लिए अभियानों में अपना योगदान देने का आग्रह भी किया है।सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के सभी प्रधानों पत्र लिऽकर प्रदेश में कोरोना संक्रमण की पहली तथा दूसरी लहर के दौरान ग्राम सभाओं के उनके योगदान के लिए धन्यवाद दिया है। इसके साथ ही इन सभी को तीसरी लहर की आशंका के चलते विशेष सावधानी बरतने का निर्देश भी दिया है।मुख्यमंत्री ने पत्र में इन सभी से अपनी-अपनी ग्राम सभा में कोरोना टीकाकरण अभियान को तेजी के साथ चलाने का निर्देश दिया है। उन्होंने गांव में सभी लोगों को निःशुल्क कोरोना टीकाकरण के लिए प्रेरित करने का आग्रह किया है। इसके अलावा हर लक्षण युत्तफ़ बच्चों को मेडिसिन किट उपलब्ध कराने को कहा है। इसके साथ ही जापानी इंसेफेलाइटिस, एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम और अन्य संक्रामक बीमारियों से बचाव के लिए गांवों में विशेष सफाई, स्वच्छता और फागिंग अभियान चलाएं। साथ ही शुद्ध पेयजल की जरूरत के बारे में लोगों को जागरूक करें।कोरोना की तीसरी लहर की संभावनाओं को देऽते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को प्रदेश के सभी प्रधानों को चिट्टòी लिऽी है। उन्होंने मेरा गांव-कोरोना मुत्तफ़ गांव का लक्ष्य हासिल करने का सहयोग मांगा है। सीएम ने बचाव के तरीकों पर काम करने के लिए सुझाव भी दिए हैं। सीएम ने ग्राम प्रधानों को लिऽी चिट्टòी में कोरोना के साथ ही अन्य संक्रामक बीमारियों से भी गांवों को बचाने के लिए साफ-सफाई और शुद्ध जल मुहैया कराने का आग्रह किया है।
आप अवगत हैं कि देश ही नहीं वरन संपूर्ण विश्व मार्च 2020 से कोरोना वैश्विक महामारी से जूझ रहा है। प्रदेश सरकार ने प्रधानमंत्री के कुशल निर्देशन में टेस्टिंग और उपचार की व्यवस्थाओं को बढ़ाया और कोरोना वायरस को नियंत्रित करने में सफलता प्राप्त की है। इस कार्य में ग्राम पंचायतों में गठित निगरानी समितियों की भी अहम भूमिका रही है। निगरानी समितियों के माध्यम से लक्ष्मण युत्तफ़ व्यत्तिफ़यों की पहचान और समय से दवाओं का वितरण कोरोना की दूसरी लहर से निपटने हेतु राज्य सरकार के नीति का महत्वपूर्ण भाग है। विशेषज्ञों द्वारा बताई गई कोरोना की संभावित तीसरी लहर के पूर्व हमें अपने टीकाकरण के अभियान की गति को तेज करने की आवश्यकता है। साथ ही आने वाले समय में अन्य संक्रामक बीमारियों से भी जन समान्य और ऽास तौर पर बच्चों को सुरक्षित करना है।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *