अपना देशउत्तर प्रदेशताज़ातरीन

फर्जी दवाईयां बेचने पर हैलट के डॉक्टर समेत 3 कर्मचारी बर्खास्त

कानपुर। आज नगर के हैलट अस्पताल के प्राचार्य डॉ संजय काला ने डॉक्टर और अस्पताल के कर्मचारियों की दलालों के साथ चल रही सांठगांठ को खत्म करने के लिए गुरुवार देर रात एक बड़ा कदम उठाया है। उन्होंने हैलट की इमरजेंसी में तैनात एक जेआर और दो आउटसोर्स कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया है। करीब 15 दिनों पहले अस्पताल के जेआरए कर्मचारियों और दलालों के बीच का एक सीसीटीवी फुटेज सामने आया था। इसमें साफ़ तौर पर देखा जा सकता था कि कैसे दलालों के साथ सांठगांठ करके मरीजों को बाहर की दवाइयां देते थे।मेडिकल कालेज के प्राचार्य प्रो काला ने बतायाए ष्काफी समय से मुझे शिकायते मिल रही थी कि जेआर और अस्पताल के कर्मचारी की सांठगांठ से मरीजों को बाहर की दवाइयां मंगवाई जा रही हैए जबकि यह दवाएं अस्पताल में मौजूद है। साथ ही कई शिकायतें इस तरह की भी मिलीं कि दलाल कर्मचारियों की मदद से निजी अस्पताल में शिफ्ट करवाते हैं। इसी के चलते आज मुझे यह कदम उठाना पड़ा। मेरा मुख्य एजेंडा अस्पताल के परिसर को दलालों से मुक्त कराना हैष्।हैलट के कैंपस इंचार्ज डॉ गणेश शंकर ने कहाए ष्जिस तरह से यहां पर दलालों का नेटवर्क चल रहा है उसे खत्म करने के लिए हमे कड़े कदम उठाने ही पड़ेगे। इसी लिए हम लोग समय.समय पर प्राचार्य के साथ इमरजेंसी और अन्य वार्ड का औचक निरीक्षण करते हैंष्।अस्पताल के जेआरए कर्मचारियों और दलालों के बीच का एक सीसीटीवी फुटेज सामने आया था। इसमें साफ़ तौर पर देखा जा सकता था कि कैसे दलालों के साथ सांठगांठ करके मरीजों को बाहर की दवाइयां देते थे

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button